Tuesday, January 31, 2023
spot_imgspot_img
HomeIndiaमसूरी में वाइनबर्ग ऐलन स्कूल के छात्रों ने पॉकेट मनी से 21...

मसूरी में वाइनबर्ग ऐलन स्कूल के छात्रों ने पॉकेट मनी से 21 वर्षीय विकलांग युवक का लगाया मैकेनिकल पैर छात्र-छात्राएं लगातार कर रहे विभिन्न सामाजिक कार्य

रिपोर्टर – सुनील सोनकर, मसूरी ।

मसूरी में वाइनबर्ग ऐलन स्कूल के छात्रों द्वारा एक 21 वर्षीय विकलांग युवक का मैकेनिकल पैर लगाकर उसे जीने की राह दी गई है। जिसकी पूरी मसूरी में प्रशंसा की जा रही है। बता दें कि जनवरी माह में गुब्बारा बेचने वाले 21 वर्षीय अरविंद का हाइड्रोजन सिलेंडर फट जाने से दाहिना पैर क्षतिग्रस्त हो गया था जिससे कि उसका पैर काटना पड़ा और अरविंद विकलांग हो गया। मसूरी वायनबर्ग ऐलन स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानाचार्य एल. टिंडेल द्वारा छात्रों की इको सोसायटी द्वारा किए जा रहे सामाजिक कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि स्कूल छात्र छात्राओं को बेहतर शिक्षा दे रहा है वही समाज की मुख्यधारा से भी जोड़ने का काम कर रहा है ।उनके द्वारा छात्र छात्राओं को सामाजिक कार्यों में प्रतिभाग कर छात्र-छात्राएं मसूरी और आसपास के क्षेत्र में गरीब और जरूरतमंद लोगों का मदद कर रहे है। उन्होंने बताया कि 21 वर्षीय युवक की एक्सीडेंट में एक पैर कट गया था जिसकाा मेैकेनिकल पैर लगाने को लेकर सभी छात्र-छात्राओं ने अपने पोकेट मनी से पैसे एकत्रित किए और 154000 कीे लागत से युवक का मैकेनिकल पैर लगवाया गया। पैर लगने के बाद विकंलाग युवक चल फिर सकता है अपनी टांग पर खड़ा है। उन्होंने कहा कि वायनवर्ग एलन स्कूल लगातार शिक्षा के क्षेत्र के साथ बच्चों के भौतिक और मानसिक विकास कर रहा है। बच्चे खेलकूद व अन्य प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन कर कर रहे हैं इस मौके पर प्रधानाचार्य द्वारा स्कूल के छात्र छात्राओं द्वारा विभिन्न प्रतियोगिता में प्रतिभाग कर विजय होने पर मेडल और ट्रॉफी से भी सम्मानित किया गया।

छात्रा अंषिका ने बताया कि स्कूल की इको सोसाइटी और शिक्षक ममता पुंडीर की देखरेख में विभिन्न सामाजिक कार्य किए जा रहे हैं जिसके तहत छात्रों द्वारा कैम्पटी के नौथा गांव में महिलाओं को स्वस्थ रहने के साथ सेनेटरी पैड और उसके बारे में जानकारी दी गई है। वह गांव के सरकारी स्कूल में बच्चों को शिक्षा देने के साथ उनको मूलभूत सुविधाएं प्रदान की जाती है। छात्र श्रेय कनोडिया ने कहा कि पीडित अरविंद के साथ हुई घटना किसी के साथ ना हो ऐसे में स्कूल के छरात्रों द्वारा अरविंद के बारे में पता लगा कर उससे मुलाकात कर उसमें आत्मा विष्वास को बढाया गया वह अरविंद का मैकेनिकल पैर लगाने के लिये पॉकेट मनी से पैसे एकत्रित किए गए वहीं इस कार्य में एक छात्र के परिजनों ने भी उनकी मदद की जिससे अरविंद का पैर मैकेनिकल पर लगाया गया और आज वह फिर अपने पैरों पर खड़ा हो गया है अरविंद अपने पैरों से चल रहा है और इसको देख कर सभी छात्र-छात्राओं को काफी खुश है वह हाल में स्कूल के छात्रों द्वारा कैम्पटी नौथा गांव के सरकारी स्कूल के छात्र-छात्राओं को जूते और अन्य सामग्री वितरित की गई व उनके बैठने के लिए वेंचर्स और टेबल का भी इंतजाम किया गया ।

पीड़ित अरविंद कुमार ने बताया कि वायनवर्ग ऐलन स्कूल के प्रधानाचार्य एल टिडेलं और छात्रों की मदद से आज उनके अपने पैरों पर खड़े हो गए हैं उन्होंने बताया कि उनके जीजा द्वारा उनकी काफी मदद की गई और उन्हीं की लगातार मेहनत के कारण बच्चे उनके पास आए और मेकिनीकल पैर लगवार उनको पैरों पर खडा कर दिया हैं जिससे वहे काफी खुशी है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular

Recent Comments