Tuesday, January 31, 2023
spot_imgspot_img
HomeCrimeसिधू मुसेवाला में शामिल छठे शूटर का था दुबई जाने का प्लान

सिधू मुसेवाला में शामिल छठे शूटर का था दुबई जाने का प्लान

पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गौरव यादव ने रविवार को कहा कि सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में शामिल छठे शूटर दीपक मुंडी ने फर्जी पासपोर्ट की मदद से भारत से दुबई भागने की योजना बनाई थी. डीजीपी ने यह भी कहा कि मुंडी के सहयोगी कपिल पंडित ने बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान को मारने की रणनीति तैयार करने के लिए गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के इशारे पर अभिनेता की टोह ली थी.

तीन महीने बाद पुलिस को मिली कामयाबी

पंजाबी गायक मूसेवाला की हत्या के तीन महीने बाद छठे शूटर मुंडी और उसके दो साथियों को शनिवार को पश्चिम बंगाल के दार्जीलिंग जिले के खारीबाड़ी पुलिस थाना क्षेत्र में भारत-नेपाल सीमा चौकी से गिरफ्तार किया गया था. यह दिल्ली पुलिस और केंद्रीय एजेंसियों का संयुक्त अभियान था. दिल्ली पुलिस ने इससे पहले तीन शूटरों को गिरफ्तार किया था, जबकि पंजाब पुलिस ने मुठभेड़ में दो अन्य को मार गिराया था.

मूसेवाला मर्डर केस में बड़ी कामयाबी

बता दें कि पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को सिद्धू मूसेवाला के नाम से मशहूर पंजाबी गायक शुभदीप सिंह सिद्धू की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. मुंडी के दो सहयोगियों कपिल पंडित और राजिंदर जोकर पर हत्या के लिए हथियार मुहैया कराने का आरोप लगाया गया है. जिले की एक अदालत ने रविवार को मुंडी, पंडित और जोकर को छह दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया. डीजीपी गौरव यादव ने चंडीगढ़ में कहा, ‘पंजाब पुलिस ने मूसेवाला हत्याकांड में केंद्रीय एजेंसियों और दिल्ली पुलिस के साथ संयुक्त अभियान चलाकर शनिवार को तीन गिरफ्तारियां की हैं.’

उल्लेखनीय है कि इस मामले में अब तक 23 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं. उन्होंने बताया कि मामले में कुल 35 आरोपियों के नाम सामने आए हैं. एक अन्य आरोपी सचिन बिश्नोई को पहले अजरबैजान में हिरासत में लिया गया था. यादव ने कहा कि शनिवार को गिरफ्तार किए गए तीनों आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि राजिंदर पहले नेपाल में था और वह कनाडा में मौजूद गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के संपर्क में था, जो इस मामले का मास्टरमाइंड है. बराड़ उनके भागने की योजना का मास्टरमाइंड भी था.

विदेश भागना चाहते थे आरोपी

डीजीपी ने उनके भागने की योजना का विवरण साझा करते हुए कहा, ‘मुंडी और कपिल पंडित हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से अपना ठिकाना बदलकर पश्चिम बंगाल पहुंचे थे. उन्होंने फर्जी पासपोर्ट का उपयोग करके नेपाल के रास्ते दुबई भागने की योजना बनाई थी.’ यादव ने कहा कि वैकल्पिक योजना नेपाल और भूटान के रास्ते भूमि मार्ग से थाईलैंड पहुंचने की थी या अगर नेपाल में उन्हें फर्जी पासपोर्ट दिए जाते तो वे बैंकॉक के लिए उड़ान भरते और बाद में दुबई पहुंचते.

आरोपी ने की थी सलमान खान की रेकी

डीजीपी ने कहा, ‘कपिल पंडित से पूछताछ में पता चला कि लॉरेंस बिश्नोई ने संपत नेहरा और गोल्डी बराड़ के माध्यम से (बॉलीवुड अभिनेता) सलमान खान को निशाना बनाने के लिए संपर्क किया था. सचिन बिश्नोई और संतोष यादव के साथ उसने विस्तृत रेकी की थी और मुंबई में काफी समय बिताया था. जांच के दौरान हम इस पहलू की भी पुष्टि करेंगे.’

पंजाब पुलिस द्वारा मूसेवाला की सुरक्षा में अस्थाई कटौती करने के एक दिन बाद 29 मई को मनसा में उनकी हत्या कर दी गई थी. हत्या के समय वह अपने दोस्त और चचेरे भाई के साथ जवाहर के गांव जा रहे थे.

 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_imgspot_img

Most Popular

Recent Comments